Sunday, April 21, 2024

बॉब क्रिस्टो : 80-90 के दशक का ये विलेन परवीन बॉबी के प्यार में भारत आया और यही का होकर रह गया

- Advertisement -
- Advertisement -

हममें से ज्यादातर ने मिस्टर इंडिया फिल्म देखी होगी और वो सीन याद होगा जब बजरंगबली की मूर्ति सर पर रख कर अनिल कपूर एक विदेशी गुंडे की पिटाई कर रहे थे ।और अंग्रेज जय बजरंगबली का जयकारा बोल रहा था। इस अंग्रेजी विलेन को हम सभी ने कई फिल्मों में देखा होगा जिनमें सभी नेगेटिव रोल निभाते थे ।

बॉब क्रिस्टो

इस विलेन का नाम था बॉब क्रिस्टो (Bob Christo) जो ऑस्ट्रेलिया के सिडनी के रहने वाले थे।  1938 में जन्मे क्रिस्टो का असली नाम रोबर्ट जॉन क्रिस्टो था । 80 -90 के दशक की फिल्मों के शौकीन जानते होंगे कि वे अक्सर विदेसी विलेन के रूप में दिखाई देते ।

थिएटर आर्टिस्ट थे बॉब क्रिस्टो

जन्म के कुछ सालों बाद ही 1943 में क्रिस्टो के पिता उन्हें लेकर जर्मनी आ गए । जहां दादी और बुआ के साथ रहते हुए उन्होंने स्कूलिंग शुरू कर दी । जर्मनी में ये वर्ल्ड वार का दौर था । हर क्षेत्र में अस्थिरता थी । पढ़ाई करते हुए बॉब क्रिस्टो का रुझान थिएटर की तरफ बढ़ा तो उन्होंने थिएटर जॉइन कर लिया । थिएटर में उनकी पहचान एक अच्छे आर्टिस्ट के रूप में होने लगी ।

बॉब क्रिस्टो
फ़िल्म सौगंध के एक दृश्य में अक्षय कुमार के साथ बॉब क्रिस्टो

परवीन बॉबी के प्यार में नौकरी छोड़ मुम्बई आये

बॉब क्रिस्टो के मुंबई आने की कहानी बड़ी विचित्र है । परवीन बॉबी उन दिनों बड़ी अदाकारा के रूप में प्रसिद्धि पा चुकी थी । उनकी एक तस्वीर मशहूर पत्रिका टाइम मैगजीन में छपी । जिसे बॉब क्रिस्टो ने देखा और वे उनपर फिदा हो गए । परवीन बॉबी से मिलने की तमन्ना उन्हें मुम्बई ले आयी ।

ऐसी थी परवीन बॉबी से पहली मुलाकात

बॉब क्रिस्टो जब मुम्बई आये तो उन्हें यहां के नरम ज्यादा जानकारी नही थी । चर्चगेट के पास उनकी मुलाकात किसी फिल्म में काम कर रहे कुछ कलाकारों और यूनिट के लोगो से हुई । वहां पता चला कि अगले दिन परवीन बॉबी “द बर्निग ट्रैन” की शूटिंग पर आने वाली है । और इस कैमरामैन से मिलेंगी। बॉब क्रिस्टो अगले दिन कैमरामैन के साथ वहीं पहुंच गए ।

अमृता सिंह के साथ बॉब क्रिस्टो

वहां वे दोनों आपस मे बाते कर रहे थे कि अचानक परवीन बॉबी आ गयी । बॉब उनके पास पहुंचे और बोले कि वे परवीन बॉबी तो नही है। परवीन बॉबी ने उन्हें आश्चर्य से देखा तो बॉब क्रिस्टो ने उन्हें मैगजीन की तस्वीर दिखाई । जिसे देखकर परवीन बॉबी खूब हँसी । उन्होंने बताया क्वे हर समय मेकअप नही करती है । इसके बाद उनकी परवीन  बॉबी से दोस्ती हो गयी ।

हिंदी फिल्मों का सफर

ये वह दौर था जब हिंदी फिल्मों में अंग्रेज जैसे दिखने वाले शख्स की खूब डिमांड थी । टॉम अल्टर को खूब काम मिल रहा था । एक बार संजय खान ने बॉब से पूछा कि क्या वो एक्टिंग करेंगे । बॉब ने बताया कि उन्हें अच्छे से एक्टिंग नही आती । बॉब क्रिस्टो को पहला मौका संजय खान ने 1980 में अब्दुल्ला फ़िल्म में दिया । जिसके बाद उन्होंने करीब 200 फिल्मों में काम किया ।

मिस्टर इंडिया फ़िल्म ने उन्हें चर्चित कर दिया । अक्सर बॉब फिल्मों में स्मगलर का रोल निभाते दिखते । नमक हलाल , हादसा , रूप की रानी चोरों का राजा , गुमराह , हादसा,  कालिया जैसी कई सुपरहिट फिल्मों से उन्हें पहचान मिली । बॉब अधिकतर नकरात्मक किरदार में ही नजर आए ।

परिवार के साथ बॉब क्रिस्टो

बॉब क्रिस्टो ने की थी 2 शादी

जर्मनी में थिएटर आर्टिस्ट के तौर पर काम करते समय बॉब की मुलाकात हेल्गा से हुई । दोनों को प्यार हुआ और शादी कर ली । उनके 3 बच्चे हुए – दो बेटी मानिक और निकोल और एक बेटा डारियस ।  कुछ समय बाद ही एक दुखद कार दुर्घटना में उनकी पत्नी हेल्गा का निधन हो गया।
पहली पत्नी के निधन के बाद उन्होंने दूसरी शादी नरगिस से की ।

20 मार्च, 2011 को बॉब क्रिस्टो को हार्ट अटैक आया । वे कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे । उनके लेफ्ट वाल में दिक्कत थी । 72 साल की उम्र में बेंगलुरु में उनका निधन हो गया और बॉलीवुड से एक हँसमुख स्वभाव के सदाबहार अभिनेता को छीन लिया.

ये भी पढ़े – परवीन बॉबी : मानसिक स्थिति बिगड़ने के बाद हो गए थे ऐसे हालात , बेहद दर्दनाक स्थिति मे छोड़ी दुनियां

- Advertisement -
The Popular Indian
The Popular Indian
"Popular Indian" is a mission driven community which draws attention on the face & stories ignored by media.
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here