Sunday, April 14, 2024

लड़की सिर्फ कोख या कब्र में सुरक्षित, लिखकर कर ली खुदकुशी

- Advertisement -
- Advertisement -

‘लड़की सिर्फ कोख या कब्र में सुरक्षित है….’ यह बात 11वीं कक्षा की मासूम ने अपने सुसाइड नोट में लिखी है। यह बात नाबालिग ने अपनी ज़िंदगी के आखिरी कुछ लम्हों के दौरान लिखी जिसने सभी को झकझोर कर रख दिया। मामला चेन्नई के मंगडू इलाके का है। यहां एक नाबालिग लड़की ने आत्महत्या कर ली। इस बात की जानकारी घरवालों ने पुलिस को दी। सूचना प्राप्त होते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया और छानबीन शुरु की। इस दौरान पुलिस को मृतका के कमरे से एक सुसाइड नोट मिला। इस नोट में मासूम ने अपनी आपबीती लिखते हुए कहा है कि मां-बाप को अपने बच्चों और खासकर बेटों को लड़कियों का सम्मान करना सिखाना चाहिए।

मां की गैर-मौजूदगी में की आत्महत्या

दिल को दहला देने वाली इस घटना के विषय में जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारियों की तरफ से कहा गया कि नाबालिग ने शनिवार को मां की गौरमौजूदगी में फंदे से झूल गई। बाज़ार से लौटने पर मां ने जब दरवाज़े को अंदर से लॉक पाया उस दौरान उन्होंने पुलिस को खबर की।

हर जगह लड़की का यौन शोषण होता है- मृतका

मालूम हो, घटना की खबर फैलते ही पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। लोगों के बीच बच्ची के द्वारा लिखा गया सुसाइड नोट चर्चा का विषय बना हुआ है। इस नोट में 11वीं कक्षा की नाबालिग ने कहा कि एक लड़की केवल मां के गर्भ और कब्र में सुरक्षित होती है। बाकी हर जगह एक लड़की का सिर्फ यौन शोषण होता है।

शिक्षकों पर नहीं कर सकते भरोसा

इसके अलावा मासूम ने नोट में आगे लिखा कि लड़कियां स्कूल में भी सुरक्षित नहीं है और शिक्षकों पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। उसने आगे लिखा कि वह मानसिक प्रताड़ना के कारण न तो पढ़ पा रही थी और न ही सो पा रही थी।

21 वर्षीय नाबालिग ने किया था यौन शोषण

चेन्नई पुलिस ने सुसाइड नोट के आधार पर एक 21 साल के लड़के को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि यह लड़का उस मासूम बच्ची को पिछले कई दिनों से प्रताड़ित कर रहा था। पुलिस ने बताया कि इस लड़के से लड़की की मुलाकात स्कूल के दिनों में ही हुई थी। आरोपी उस वक्त 11वीं कक्षा में था जबकि किशोरी उस वक्त 8वीं में थी। हालांकि बाद में छात्रा ने पुराना स्कूल छोड़कर नया स्कूल ज्वॉइन कर लिया था। लेकिन दोनों के बीच बातचीत बंद नहीं हुई थी। वे दोनों इंस्टाग्राम के माध्यम से एक-दूसरे के संपर्क में थे।

आरोपी ने कुबूल किया गुनाह

इस मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों का कहना है कि आरोपी ने मासूम के साथ शारीरिक संबंध बनाने की बात को कुबूल किया है। हालांकि, सुसाइड नोट के आधार पर अन्य पहलुओं पर भी छानबीन चल रही है।

‘जस्टिस फॉर मी’

गौरतलब है, सुसाइड नोट में मासूम ने समाज की उस काली सच्चाई का जिक्र किया है जिससे हर दिन लाखों लड़कियां जूझती हैं। उस मासूम ने अपने अंतिम पत्र में लोगों से यही मांग की है कि ‘यौन उत्पीड़न बंद करो’। इसी के साथ उसने अंत में लिखा ‘जस्टिस फॉर मी’।

 

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here