Sunday, April 21, 2024

ऐसा क्या हुआ कि मतगणना केंद्र पर फूट-फूटकर रोने लगा सरपंच उम्मीदवार?

- Advertisement -
- Advertisement -

‘ना बाप बड़ा ना भैया….सबसे बड़ा रुपैया….’ ये कहावत उस वक्त सच हुई जब सरपंच पद के उम्मीदवार को उसके घरवालों ने ही वोट ना देकर हरा दिया। यह अजीबो-गरीब मामला गुजरात के ग्राम पंचायत चुनाव का है। दरअसल, यहां एक व्यक्ति मतदान केंद्र पर उस वक्त फूट-फूटकर रोने लगा जब उसे पता चला कि उसके परिवार के ही सदस्यों ने उसे वोट नहीं दिया।

घर वालों ने ही नहीं दिया वोट

मंगलवार को गुजरात ग्राम पंचायत चुनाव के वोटों की गणना शुरु हुई, इस दौरान 8600 से अधिक पंचायतों के नतीजे घोषित किये गए। तभी वापी के छलहारा गांव के संतोष हलपति को उस वक्त जोर का झटका लगा जब उसे पता चला कि उसके अलावा पूरे गांव में से किसी ने उसे एक भी वोट नहीं दिया है, इससे ज्यादा उसे तकलीफ तब हुई जब उसे पता चला कि गांव वाले तो गांव वाले यहां तक कि उसके परिवार के किसी सदस्य ने भी उसके पक्ष में वोट नहीं दिया है।

सिर्फ एक वोट मिला

रिपोर्ट्स के मुताबिक, संतोष ने बताया कि जब चुनाव के नतीजे घोषित किये गए तब पता चला कि उसके नाम पर सिर्फ एक वोट पड़ा है। यह बात सुनकर उसे अपने कानों पर विश्वास नहीं हुआ, इसलिए उसने मतगणना केंद्र पर बैठे अधिकारियों से इस बाबत प्रश्न किया हालांकि जवाब वही मिला। यह सुनकर वह दहाड़े मार-मारकर रोने लगा।

परिवार में हैं 12 सदस्य

बता दें, संतोष को इस तरह से बांघे फाड़कर रोता देख सभी लोग अचंभित हो गए। उन्होंने पूछा कि क्या हुआ, इसपर उसने बताया कि मेरे अलावा मुझे किसी ने वोट नहीं दिया, यहां तक कि मेरे परिवार के 12 सदस्यों ने भी।

उम्मीद पर खरे नहीं उतरे परिजन

इस मामले पर चर्चा करते हुए स्थानीय लोगों ने बताया कि संतोष को उम्मीद थी कि कम से कम उसके परिवार के सदस्य तो उसके पक्ष में जरूर वोट डालेंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इसके बाद उसका भरोसा पूरी तरह से उठ गया। जानकारी के मुताबिक, संतोष का रवैया अपने घरवालों के प्रति ठीक नहीं है। वह अक्सर लड़ाई-झगड़ा करता रहता है, इसी के चलते उसके परिवार के सदस्यों ने उसको वोट नहीं दिया। इस बात का पता चलने पर संतोष जमीन पर लोट-लोटकर रोने लगा और अपनी किस्मत को कोसने लगा।

27 हजार उम्मीदवारों ने आजमाई किस्मत

गौरतलब है, बैलेट पेपर के जरिये हुए इन चुनावों में 27 हजार उम्मीदवारों ने पूरे गुजरात में अपनी किस्मत आजमाई। बात करें, वोटिंग प्रतिशत की तो चुनाव आयोग के मुताबिक, कुल वोटिंग प्रतिशत 77 रहा।

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here