Monday, March 4, 2024

आखिर केके को क्यों पड़ी थी सेल्समैन की नौकरी, बड़ा दिलचस्प है ये किस्सा

- Advertisement -
- Advertisement -

बॉलीवुड के सिंगर केके का कल रात निधन हो गया लेकिन वो अपने पीछे छोड़ गए वो सैकड़ों गाने जो उन्होंने गाये थे. एक समय था जब कॉलेजों में केवल और केवल केके के गाने बजाए जाते थे. लेकिन केक ऐसे ही इस मुकाम तक नहीं पहुंचे थे. एक समय ऐसा था जब केके को सेल्समैन की नौकरी तक करनी पड़ गई थी. आइए जानते हैं आखिर उन्होंने ऐसा क्यों किया था.

बचपन के प्यार से की शादी –

केके ने अपने बचपना के प्यार ज्योति कृष्णा से शादी की है. शादी से पहले केके कुछ कमा नहीं रहे थे इसलिए ज्योति के घरवालों के सामने वो जाने से कतराते थे. ऐसे में ज्योति से शादी करने के लिए केके ने एक होटल में सेल्समैन की नौकरी करने लगे. इस नौकरी के दम पर ज्योति के घरवालों ने केके से उनका विवाह कर दिया लेकिन केके को यह नौकरी बिलकुल भी पसंद नहीं थी. वो हमेशा से ही सिंगिंग के फील्ड में अपना करियर बनाना चाहते थे.

 

जिंगल्स गाना शुरू किया-

नौकरी छोड़ने के बाद केके ने एक कीबोर्ड खरीदा और दोस्तों के साथ जिंगल्स बनाने लगे. केके ने एक के बाद एक तीन हजार जिंगल्स बनाए और वो लगातार हिट हो रहे थे. केके अब पैसे कमाने लगे थे लेकिन मन में सुकून नहीं था क्योंकि उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में जाना था. इसके बाद केके दिल्ली से मुंबई आ गए और यहाँ पर काम की तलाश करने लगे.

 

जब संगीतकार ने दिखाई पांच उंगलियां-

मुंबई आने के बाद केके काम की तलाश में थे और उसी वक्त संगीतकार रणजीत बरोत एक गायक की तलाश में थे. ऐसे में केक ने उसे संपर्क किया तो पैसे देने के नाम पर उन्होंने केके को पांच उंगलियां दिखाई। केके को लगा की यह मुझे पांच सौ रुपये देने वाले हैं लेकिन केके ने फिर भी वह गाना किया। बाद में जब पैसे मिले तो वो पांच सौ नहीं बल्कि पांच हजार रुपये थे. जब केके को चेक मिला तो वो हैरान रह गए. इस तरह से म्यूजिक इंडस्ट्री में केके ने कदम रखा.

तड़प तड़प से मिली पहचान-

आज के समय में केक किसी पहचान के मोहताज नहीं थे लेकिन एक दौर था जब लगातार काम करने के बाद भी केके को कोई ख़ास पहचान नहीं मिल रही थी. ऐसे में केक को पहचान दिलाई हम दिल दे चुके सनम के एक गाने तड़प तड़प ने. इस गाने से केके हर घर में सुने जाने लगे और फिल्म में उनका यह गाना बहुत हिट रहा. इसके बाद जरा सी दिल में दे जगह तू, आँखों में तेरी अजब से अजब सी, यारों’, ‘पल’, ‘कोई कहे कहता रहे’, ‘मैंने दिल से कहा’, ‘आवारापन बंजारापन’, ‘दस बहाने’, ‘अजब सी’, ‘खुदा जाने’ और ‘दिल इबादत’ जैसे गाने बहुत प्रचलित हुए.

- Advertisement -
Ambresh Dwivedi
Ambresh Dwivedi
Writer, news personality
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here