Wednesday, February 21, 2024

जब 17 साल बाद अंजू महेंद्रू से मिलकर होश खो बैठे थे राजेश खन्ना, कर दी ऐसी हरकत

- Advertisement -
- Advertisement -

यूं तो हिंदी सिनेमा ने कई सितारों को जन्म दिया, उन्हें पहचान दिलाई लेकिन जैसी पहचान और नाम राजेश खन्ना को मिली, शायद ही किसी और स्टार को मिली होगी।

बॉलीवुड के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना ने अपनी अदाकारी से वो मुकाम हांसिल किया जिसको पाने के लिए लोग पूरी जिंदगी लगा देते हैं लेकिन नहीं मिल पाता।

फिल्म इंडस्ट्री में काका के नाम से मशहूर राजेश खन्ना ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत साल 1966 से की थी। उनकी पहली फिल्म का नाम आखिरी खत था। हालांकि, बॉक्सऑफिस पर यह फिल्म कुछ खास कमाल नहीं कर पाई थी लेकिन इस फिल्म में उनकी एक्टिंग को एक्टिंग को खूब सराहा गया था।

1969-1972 तक बैक-टू-बैक फिल्में हिट हुई थीं

माना जाता है कि फिल्म जगत में राजेश खन्ना का गोल्डन पीरियड साल 1969 से 1972 तक रहा। इस दौरान अभिनेता ने एक के बाद एक सुपरहिट फिल्में देकर बॉलीवुड के नामचीन एक्टर बन गए थे।

इस दौरान राजेश खन्ना की 15 फिल्में बैक टू बैक सुपरहिट साबित हुई थीं। यही कारण था कि वे हिंदी सिनेमा जगत के पहले सुपरस्टार बन गए थे। कहा जाता है कि लड़कियों के बीच उनके प्रति इतनी दीवानगी थी कि जब एक्टर की गाड़ी कहीं से निकलती थीं तो वे उसे ही चूम-चूमकर गुलाबी बना देती थीं।

5 सालों तक चली रिलेशनशिप

लेकिन वो कहते हैं न हर किसी के सीने में एक राज़ दफ्न होता है। ठीक वैसे ही राजेश खन्ना के दिल में भी एक लड़की का नाम बसता था और वो थीं उस वक्त की नामचीन अदाकारा अंजू महेंद्रू।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अंजू महेंद्रू और राजेश खन्ना के बीच गहरा रिश्ता था। दोनों एक-दूसरे को दिलो-जान से प्यार करते थे। कहा जाता है दोनों का यह रिश्ता 5 सालों तक चला था।

यह वो दौर था जब काका अपने स्टारडम का लुत्फ उठा रहे थे। लेकिन अंजू उन्हें हर बात पर टोकती थीं। वे उन्हें समझाती थीं कि स्टारडम का घमंड करना गलत है। आज जिस जगह पर वे हैं वहां कल कोई और आएगा। लेकिन काका को ये सब बातें फिजूल लगती थीं।

जब चिड़चिड़े होते जा रहे थे काका

साल 1972 के बाद वो वक्त आया जब राजेश खन्ना का करियर ढलान की ओर बढ़ रहा था। उनकी फिल्में फ्लॉप हो रही थीं। ऐसे में वे डिप्रेशन का शिकार हो रहे थे। कहा जाता है कि उनके स्वभाव में बदलाव आने लगा था। वे मूडी और चिड़चिड़े होते जा रहे थे। यही वजह थी कि उनकी लव लाइफ भी इससे इफेक्ट हो रही थी। दोनों के बीच दूरियां बढ़ने लगी थीं।

फिर एक समय ऐसा आया जब काका और अंजू ने एक-दूसरे से अलग होने का फैसला कर लिया था। प्रसिद्ध लेखक यासिर उस्मान ने काका के जीवन पर आधारित एक पुस्तक कुछ तो लोग कहेंगे में लिखा है कि एक रात राजेश अंजू के कंधे पर सिर रखकर रोना चाहते थे, वे अपना दर्द बांटना चाहते थे। लेकिन एक्ट्रेस काका को अकेला और तन्हा छोड़कर चली गई थीं। जिसके बाद दोनों का रिश्ता खत्म होता ही गया और एक दिन अंत हो गया।

15 साल छोटी एक्ट्रेस पर आया दिल, रचाई शादी

गौरतलब है, इसके बाद काका ने खुद से छोटी, मगर उस वक्त की टॉप एक्ट्रेस डिंपल कपाड़िया से शादी रचा ली थी। दोनों की उम्र में तकरीबन 15 साल का फासला था।

कहते हैं शादी के कुछ सालों बाद काका की मुलाकात एक बार फिर उनकी 17 साल पुरानी गर्लफ्रैंड अंजू से हुई थी। इस बात का खुलासा अंजू ने खुद एक इंटरव्यू के दौरान किया था। उन्होंने बताया था कि 17 साल बाद एक-दूसरे से मिलकर दोनों के मन में कैसी उथल-पुथल मच रही थी। एक्ट्रेस ने कहा था कि, “जब 17 सालों बाद हमने एक-दूसरे से पहली बार बात की थी तो मैं यह स्वीकार करती हूं कि हमारे बीच माहौल काफी अजीब हो गया था। हम दोनों को ही अजीब महसूस हो रहा था।”

काका ने Ex गर्लफ्रैंड को दी थी झप्पी

एक्ट्रेस ने आगे कहा था कि, “न तो मैंने उन्हें जतिन कहकर बुलाया, जैसे मैं पहले पुकारती थी और न ही उन्होंने मुझे पहले की तरह निक्की कहकर पुकारा। मैंने उन्हें काका तक नहीं कहा, क्योंकि यह काफी ज्यादा फिल्मी हो जाता।  कुछ देर बाद उन्होंने मुझे एक झप्पी दी थी।‘’

 

 

 

- Advertisement -
Latest news
- Advertisement -
Related news
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here